03 मई 2011

दिग्विजय की लादेन के प्रति सहानुभूति

बयान : ओसामा बिन लादेन के शव को समुद्र में दफनाया जाना मुस्लिम धर्म के खिलाफ है. ऐसा नहीं किया जाना चाहिए था. -दिग्विजय सिंह, महासचिव, कांग्रेस
बड़ा अफ़सोस हुआ.
तड़का : दिग्गी साब शायद यह कहना चाहते हैं, ‘‘जो कुछ ‘ओसामा बिन लादेन जी’ कर रहे थे, वह धर्म के अनुसार था. उन्हें समुद्र में दफनाने की बजाय वहां दफनाया जाना चाहिए था, जहां बड़ी हस्तियां दफनाई गई हों.’’

9 टिप्‍पणियां:

  1. वोट के लिये आदमी इतना गिर सकता है कि ओबामा से सहानुभूति करे?

    उत्तर देंहटाएं
  2. दिग्विजय सिंह की बयान रूपी बेफकुफियो की लिस्ट काफी लम्बी है कल उन्होंने उस में एक और जोड़ ली वास्तव में कहू तो दिग्विजय सिंह की ये बेफकुफिया बर्दास्त के बाहर होती जा रही है |

    उत्तर देंहटाएं
  3. ये साहब बहुत गिर चुके हैं|

    उत्तर देंहटाएं
  4. श्रीमान जी,मैंने अपने अनुभवों के आधार ""आज सभी हिंदी ब्लॉगर भाई यह शपथ लें"" हिंदी लिपि पर एक पोस्ट लिखी है. मुझे उम्मीद आप अपने सभी दोस्तों के साथ मेरे ब्लॉग www.rksirfiraa.blogspot.com पर टिप्पणी करने एक बार जरुर आयेंगे.ऐसा मेरा विश्वास है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. हमारे देश में जो नेता महोदय ओसामा जी -ओसामा जी चिल्ला रहे है उनको अफगानिस्तान या पाकितान में छोड़ देना चाहिए. एक महीने बाद ये नेता महोदय चिल्लाएगे ओबामा जी-ओबामा जी बचाओ. यदि कांग्रेस ने इन्हें जल्दी न छोड़ा तो किसी दिन हमारे देश में भी अमेरिका इन नेता महोदय का लेट नाईट ऑपरेशन कर देगा.

    उत्तर देंहटाएं
  6. कांग्रेस या कहू तो दिग्विजय सिंह जैसे नेता दो चार और हो जा तो फ़िर से औरंगजेब का शासन आ जायेगा, वो तो शुक्र है कि ऐसे नेता अब किसी प्रदेश का मुख्यमंत्री ना है रे राम-राम उठा ले ऐसे नेताओं को।
    अगर आप हिन्दू विरोधी हैं तो आप सेकुलर है अगर आप मुश्लिम धर्म के समर्थक हैं तो आप सेकुलर हैं.
    मैं नहीं बी जे पी को छोडकर सभी ये ही कह्ते है।

    उत्तर देंहटाएं
  7. digi ne thik kha h.. ek baar inse puchna chiye tha ki iske dost ko kaha dafnaye

    उत्तर देंहटाएं